Search This Blog

There was an error in this gadget

PostHeaderIcon पूछ लो इस ज़माने से

पूछ लो तुम भी इस ज़माने से ,
प्यार छुपता नही छुपाने से ,
पास आते हो छूते हो बात करते हो ,
कभी मतलब से कभी बहाने से ,
प्यार दिल मे है तो लाओ जुबान पे ,
आग बढती है ये बुझाने से ,
तुम्हें ना पाना शायद बेहतर है ,
पा के फिर से तुम्हें गवाने से ,
चलो एक दुआ तो अपनी पुरी हुई ,
मिल लिए अपने एक दीवाने से ,
रोये जाते हो , बस रोये जाते हो ,
क्या होगा ये धन लुटाने से ,

0 comments: